वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद

CSIR

विभाग की संशोधन एवं विकास क्षमताएं


1982 में इस विभाग की शुरुआत हुइ, और O2, N2 तथा CO जैसे गैसीय अणुओं का उपयोग करके, पर्यावरणीय तथा औद्योगिकीय रुप से महत्वपूर्ण प्रतिक्रियाओं के लिये सहसंयोजक (कोर्डीनेशन) धातु संयोजको को समांग उत्प्रेरक के रुप में उपयोग करने की संभावनाओं का प्रयास किया गया। 1982 से 1991 के दौरान, आण्विक स्तर पर ओक्सीडेशन, इपोक्सीडेशन तथा हाइड्रोफोरमीलेशन जैसी प्रतिक्रियाओं के लिये धातु संयोजकों के संश्लेषण में इस विभाग का महत्वपूर्ण योगदान रहा। इन सब संशोधन कार्यो पर केटालिसिस तथा इनओरगेनीक मेटल कोम्पलेक्सीस के जरनलो में सैंकडो लेख तथा कुछ पेटन्ट प्रकाशित हुए हैं जिसने अंतरर्राष्ट्रीय स्तर पर विभाग की अलग पहचान कराई है।

1992 से इस विभाग ने, धातु संयोजनों की क्षमता में वृद्धि तथा विविधता विशेष रुप से काइरल धातु संयोजनों की डिज़ाइन के कार्य के उपरांत अपने संशोधन कार्य को व्यापक बनाते हुए प्रकाश उत्प्रेरकों तथा औद्योगिक अनुप्रयोगों के लिये विशिष्ट अकार्बनिक धातुओं के विकास कार्य पर संशोधन कार्य किया है। नब्बे के उतरार्ध में, सुरक्षा, ग्रीन केमेस्ट्री तथा पर्यावरण संबंधी पनपती जागरुकता के कारण इस विभाग ने विषमांग उत्प्रेरण तथा अधिशोषण में अपनी क्षमता दर्शाते हुए निम्नलिखित पहलूओं पर अपना ध्यान केन्द्रित करते हुए तत्‌संबंधी अवसरों को व्यापक बनाया है।

  • चयनीत अकार्बनिक रुपांतरको के लिये उत्प्रेरक
  • विशिष्ट अकार्बनिक धातुओं की डिज़ाइन व विकास
  • अधिशोषण, शुद्धिकरण तथा विलगन

विशेष पढिए>>

हाल में, इस विभाग ने क्लेस, जियोलाइट्‌स, मेटल ओक्साइड्स, हाइड्रोटेलसाइड्स, कार्बोनेट्‌स, कार्बन्‌स MOFS तथा क्रियान्वित (फंकशनलाइज्ड़) अकार्बनिक धातु संयोजनों जैसे विभिन्न अकार्बनिक पदार्थो के संश्लेषण में स्वतः निपुणता प्राप्त की है। यह विभाग हालमें, उत्प्रेरण के सभी प्रकार समांग, विषमांग तथा प्रकाश उत्प्रेरण पर संशोधन कार्य कर रहा है। समांग उत्प्रेरकों का उपयोग करके, इपोक्सीडेशन, नाइट्रेशन तथा एमीनेशन जैसे हाइड्रोजनेशन, हाइड्रोफोर्मिलेशन तथा असममित ट्रान्सफोर्मेशन किये जाते हैं। विषमांग उत्प्रेरण द्बारा चयनशील ओक्सीडेशन, आल्काइलेशन, C-C बंधक संरचनावाली प्रतिक्रियाएं, एसीलेशन, एस्टरीफिकेशन तथा आइसोमराइजेशन किया जाता है। संशोधित प्रकाश उत्प्रेरण द्बारा कार्बनिक रंजको तथा कार्बनिक संयोजको का अवकर्षण (डीग्रेडेशन) किया गया है। इस समूह ने जब संभव हुआ तब समांग संयोजको का विसमांगीकरण करके दोनों के लाभ प्राप्त करने का प्रयास किया है। इस विभाग ने पिछले दशक में अवशोषित विलगन तथा गैसीय अणुओं के संचयन में सामर्थ्य, निपुणता हांसिल की है। इस विभाग ने CO2 तथा CH4 के लिये अधिशोषक विकसित किया है तथा ऐसे अणुओं में से मूल्यवृद्धि युक्त संयोजकों को प्राप्त करने के लिये उत्प्रेरण प्रक्रियाएं विकसित करके इंधन, रसायणों तथा वैश्विक तापमान के लिये जैव-पुनःनवीकरणों के क्षेत्र में अतिक्रमण किया है। उपर्युक्त विभिन्न क्षेत्र में संस्थान के इस विभाग ने सीएसआईआर की तथा अन्य राष्ट्रीय प्रयोगशालाओं, शैक्षिक संस्थाओं तथा उद्योगों के साथ सहयोगी कार्य किया है। हाल में, इस विभाग में 14 वैज्ञानिक तथा 40 संशोधन छात्र हैं।

वर्तमान अनुसंधान कार्य

vision

संपर्क सूत्र


  • अंतर्राष्ट्रीय
  • उद्योग
  • राष्ट्रीय शैक्षिक संस्था
  • अनुज्ञा देने के लिये तैयार प्रौद्योंगिकियां
  • उपलब्धियाँ (2005-10)
  • योजनाएं
  • कोरीया इंस्टीट्यूट ऑफ एनर्जी रिसर्च, डेजोन, साउथ कोरीया
  • कोरीया रिसर्च इंस्टीट्यूट ऑफ केमिकल टेकनोलोजी, डेजॉन, साउथ कोरीया
  • युनिवरसीडाड डे सालामान्का, सालामान्का, स्पैन
  • द पेनसायल्वेनिया स्टेट युनिवर्सिटी, यु एस ए
  • युनिवर्सिटी द आरटोइस, लेन्स केडेक्स, फ़्रांस
  • इन्हा युनिवर्सिटी, साउथ कोरीया
  • नाल्को, दमनजोडी
  • जीएनएफसी, भरुच
  • जीएमडीसी, अहमदाबाद
  • एनएमडीसी, हैदराबाद
  • बीपीसीएल, नोइडा
  • कनोरीया केमिकल्स, न्यू दिल्ली
  • स्ट्रीड्स आर्को लेब, बेंगलुरु
  • कडवानी केमिकल्स, जामनगर
  • रीलायन्स इन्डस्ट्रीज लिमिटेड, मुंबई
  • इको ओरगेनिक्स, रामपुर
  • एक्यूला ओरगेनिक्स, मुंबई
  • नेशनल केमिकल लेबोरेटरी, पुने
  • सीइसीआरआइ, कराइकुडी
  • नेशनल फिजीकल लेबोरेटरी, न्यु दिल्ही
  • बेंगलूर युनिवर्सिटी, बेंगलूर
  • सौराष्ट्र युनिवर्सिटी, राजकोट
  • नर्मद युनिवर्सिटी, सुरत
  • एसबीएनआइटी, सुरत
  • जियोलाइट ए  
  • जियोलाइट एक्स
  • प्रेसीपिटेटेड सिलिका
  • केल्शियम कार्बोनेट (रबर एन्ड पेपर ग्रेड)
  • वेल्यु एडीशन ऑफ कीम्बरलाइट फॉर द प्रिपरेशन ऑफ जियोलाइट ए एन्ड एमोरफोस सिलिका    
  • वेल्यु एडीशन ऑफ अट्टापुल्गीट क्ले
  • स्टाइरीन ओक्साइड     
  • 1-फिनोल/इथेनोल 
  • काइरल एपीक्लोरोहाइड्रीन
  • आइएसओ युजीनोल फ्रोम युजीनोल
  • आइएसओ लोंगीफोलीन फ्रोम लोंगीफोलीन
  • एनेथोल फ्रोम एस्ट्रागोल
  • प्रेसीयस मेटल रीकवरी फ्रोम वेस्ट
  • पोर्टेबल ऑक्सीज़न स्टोरेज यूनिट           
  • संशोधन प्रकाशन  178
  • स्वीकृत पेटंट  43
  • प्रस्तुतियाँ/व्याख्यान  226
  • विदेश यात्रा 7
  • पी एच डी  पदवी तथा प्रस्तुति 15 तथा 4
  • गैस संचयन तथा विलगन के लिये अधिशोषक
  • चयनशील कार्बनिक रुपांतरण के लिये नवीनतम उत्प्रेरक
  • अकार्बनिक पदार्थ
  • विभिन्न उपयोग हेतु विशिष्ट अकार्बनिक पदार्थो का विकास
  • उत्सर्जन रहित अनुसंधान की शुरूआत